Saturday, May 14, 2011

सफ़र


हर मोड़ पर मिल जायेंगे
कदरदान तुझे
बस विश्वास का दिया जलाते रहना....

हर कोशिश में रहेगी
उनकी मेहेरबानी
बस प्रेम उनसे युहीं निभाते रहना ...

मुमकिन नहीं अकेले सफ़र हो जाए आसाँ
फ़रिश्ते आयेंगे राहों में
उन्हें हमसफ़र बनाते रहना ..

No comments:

Post a Comment