Sunday, May 15, 2011

तेरे जाने के बाद!

जाना  है खुद को तेरे जाने के बाद 
है पहचान अब तुझसे,  तेरे जाने के बाद 

तू मुस्कुरा और ये गीत मुस्कुरा दे 
बस ये चाह है  मेरी, तेरे जाने के बाद 

अकेला रहा पर डरता नहीं था
तेरी परछाई संग थी ,तेरे जाने के बाद 

मैंने समझा बहुत देर हो गयी अब 
यादों ने थामा तेरे जाने के बाद 

मिलेंगे नहीं  हम ,ये वादा रहा पर 
तुझे  दिल में रखेंगे ,तेरे जाने के बाद 

जुड़ा  हूँ शहद सा ,हर शख्स से मैं 
मधुर गीत गाता हूँ  ,तेरे जाने के बाद 

तू है एक घट , मैं तेरा पानी
बस ऐसा है नाता ,तेरे जाने के बाद

तू सूरज की किरण , मैं एक सूरजमुखी हूँ 
तड़पता  हूँ नित दिन ,तेरे जाने के बाद 

तड़पता   हूँ नित दिन, तेरे जाने के बाद 




4 comments:

  1. ये है सच्चा प्यार......जो खोने के बाद मरने की नहीं बल्कि उससे जुड़े रहने की बात करता है.....बहुत बढ़िया.....

    ReplyDelete
  2. मैंने समझा बहुत देर हो गयी अब
    यादों ने थामा तेरे जाने के बाद...payr ke har bhaav koapne rachna me kaha hai... bhut sunder...

    ReplyDelete
  3. मिलेंगे नहीं हम ,ये वादा रहा पर
    तुझे दिल में रखेंगे ,तेरे जाने के बाद
    सच्चे प्यार की अनुभूति

    बेहतरीन प्रस्तुति

    ReplyDelete
  4. बेहतरीन प्रस्तुति.....बहुत बढ़िया

    ReplyDelete

Kshitiz

Wo kshitiz hai paas nahi aata, Jaise sach ho ,jo raas nahi aata Tum aaye the lekar Josh -o -junoon, Ab kya hua,kahte ho kaash nahi aata !...